ख़तरे में तुम्हारी रोज़ की इबादत पड़ जाएगी

ख़तरे में तुम्हारी रोज़ की इबादत पड़ जाएगी,/ मुझसे बात करोगे तो मेरी आदत पड़ जाएगी //

Continue reading