Best Shayari

Shayari Hub

Hum kabhi jab dard ke qissey sunaane Lag gaey


हम कभी जब दर्द के किस्से सुनाने लग गए
लफ़्ज़ फूलों की तरह ख़ुश्बू लुटाने लग गए

बेबसी तेरी इनायत है कि हम भी आजकल
अपने आँसू अपने दामन पर बहाने लग गए

Hum kabhi jab dard ke qissey sunaane Lag gaey
Lafz phoolo’n ki tarah Khushbu Lutaane Lag gaey

Bebasi Teri inaayat hai ki Hum bhi aaj kal
Apne aansu Apne daaman par bahaane Lag gaey

Shayari by @Munawwar Rana