हर चीज़ उठायी जा सकती है पर गिरी हुई सोच नहीं

हर चीज़ उठायी जा सकती है पर गिरी हुई सोच नहीं